You are here: Home / Latest News / नर्सिंग में अनुसंधान, स्वस्थ समाज के लिए एक औषधि - खत्री दो दिवसीय नेशनल नर्सिंग वर्कशाॅप शुरू, आज होगा प्रशस्ति पत्र वितरण के साथ समापन

नर्सिंग में अनुसंधान, स्वस्थ समाज के लिए एक औषधि - खत्री दो दिवसीय नेशनल नर्सिंग वर्कशाॅप शुरू, आज होगा प्रशस्ति पत्र वितरण के साथ समापन

May 10, 2019
नर्सिंग में अनुसंधान, स्वस्थ समाज के लिए एक औषधि - खत्री
दो दिवसीय नेशनल नर्सिंग वर्कशाॅप शुरू, आज होगा प्रशस्ति पत्र वितरण के साथ समापन
 
जोधपुर 10 मई। मारवाड़ मुस्लिम एज्यूकेशनल एण्ड वेलफेयर सोसायटी के अधीन संचालित कमला नेहरू नगर स्थित मांई ख़दिजा इन्स्टिट्यूट ओफ नर्सिंग साईंसेज में ‘इन्ट्रोडक्ट्री कोर्स ओन रिसर्च मेथोडोलोजी एण्ड बायोस्टेटिसटिक्स फाॅर नर्सिंग प्रोफेशनल्स‘ (नर्सिंग पेशेवरों के लिए अनुसंधान पद्धति और जैव प्रोद्योगिकी पर परिचयात्मक पाठ्यक्रम) विषय पर दो दिवसीय नेशनल वर्कशाॅप का आयोजन किया गया। 
रिजनल काॅर्डिनेटर आईसीएमआर एवं नर्सिंग प्राचार्य जितेन्द्र खत्री ने बताया कि ये आयोजन डाॅ पद्म सिंह रिसर्च एण्ड डेवलपमेन्ट स्कीम के संयुक्त तत्वावधान में आईसीएमआर, एनआईएमएस, आईएएस व एनआईसीपीआर के सहयोग से किया गया। 
          उन्होंने ने बताया कि वर्कशाॅप के पहले दिन मुजफ्फरनगर नर्सिंग इन्स्टिट्यूट की प्राचार्य डाॅ प्रोफेसर प्रेमा ने ‘रिसर्च मेथोडोलाॅजी नाॅन पेरामेट्रिक टेस्ट एण्ड इट्स इन्टरप्रिटेशन‘ विषय पर प्रेक्टिकल तरीके से छात्र-छात्राओं को रोचक व्याख्यान दिया। सेन्ट्रल यूनिवर्सिटी ओफ राजस्थान के सहायक आचार्य डाॅ अरविन्द पांडे ने ‘फन्डामेन्टल  ओफ स्टेटिसटिक्स, डाटा, डाटा क्वालिटी एण्ड कलेक्शन मेथड‘ विषय पर बात की। जोधपुर एम्स के काॅलेज ओफ नर्सिंग की सहायक आचार्य डाॅ वन्दना पांडे़ ने ‘फन्डामेन्टल ओफ एपिडीमिओलोजी, इट्स मेजर एण्ड स्टडी डिजाइन, विषय पर व्यावहारिक रूप से विस्तार से चर्चा की।
प्राचार्य जितेन्द्र खत्री ने बताया कि चाहे नर्सिंग शिक्षा क्षेत्र हो, नर्सिंग प्रशासनिक क्षेत्र या नर्सिंग हाॅस्पीटल का क्षेत्र। तीनो क्षेत्रों में नर्सेज दिन रात समाज में अपनी सेवाएं देती है। इस वर्कशाॅप का उद्देश्य रिसर्च के क्षेत्र में इन्हीं नर्सेज के ज्ञान को बढावा देना ताकि वो साक्ष्य पर आधारित गुणवत्ता रूपी अपनी सेवाएं निरन्तर दे सकें। नर्सिंग पेशे में अनुसंधान, स्वस्थ समाज के लिए एक औषधि के समान है।
वर्कशाॅप में स्नातक एवं स्नात्कोत्तर नर्सिंग फैकल्टी के 90 विद्यार्थियों ने भाग लिया। असिस्टेंट प्रोफेसर रिजवान अली, अनीता नायर, सुखबीर पाल कौर, सुनीता चैधरी, जेबूनिशां सहित समस्त व्याख्याताओं का विशेष सहयोग रहा। संचालन जाॅयसी जाॅय ने किया। धन्यवाद असिस्टेंट प्रोफेसर एवं लोकल काॅर्डिनेटर राजूराम परिहार ने दिया। शनिवार को प्रशस्ति पत्र वितरण समारोह के साथ कार्यशाला का समापन होगा।